आज से पढ़ने का विश्व रिकॉर्ड बनाएंगे यतीश चंद, तैयारियां पूरी

आज से पढ़ने का विश्व रिकॉर्ड बनाएंगे यतीश चंद, तैयारियां पूरी



गोला गोकर्णनाथ, खीरी। चार जून 2018 को गोरखपुर में 148 घंटे 14 मिनट 13 सेकेंड लगातार पढ़ाने का विश्व रिकार्ड बनाने वाले यतीश चंद्र शुक्ल आज सुबह प्रातः 8 बजे से कृषक समाज इण्टर कालेज में लगातार उपनिषद, पुराण, धार्मिक ग्रंथ व साहित्यकारों की रचनाये आदि पढकर नैपाल के दीपक शर्मा का 113 घंटे 15 मिनट का रिकार्ड तोडने जा रहे हैं। इसमें विभिन्न संस्थानों के बच्चों व अध्यापकों के साथ साहित्यकारों की भागीदारी रहेगी जो यतीश का 24 घंटे मनोबल बढ़ायेगा।

लखीमपुर रोड स्थित कृषक समाज इण्टर कॉलेज में यतीश शुक्ला आज प्रातः 8 बजे से 30 सितम्बर से पढने का प्रयास करेगे। इस दौरान गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम भी मौजूद रहेगी। लगातार 150 घंटे तक पढ़ने के इस लक्ष्य में यतीश का मनोबल बढ़ाने के लिए तमाम सामाजिक संगठन, शैक्षिक संस्थाएं और शहर के युवा वर्ग आगे आ गए हैं। कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद रवि प्रकाश वर्मा, पालिकाध्यक्ष मीनाक्षी अग्रवाल, कपिलश संस्था अध्यक्ष शिप्रा खरे, केशव अग्रवाल और उनकी टीम यतीश का पूरा सहयोग करने में लगी हुई है।

यह भी पढ़ें… सर्वे: लोकसभा चुनाव को लेकर जानें यूपी का मूड, इस पार्टी को लगेगा तगड़ा झटका

दीपक शर्मा के नाम दर्ज है 113 घंटे का रिकार्ड

अब तक 113 घंटे लगातार पढ़ने का विश्व रिकॉर्ड नेपाल के दीपक शर्मा नाम दर्ज था जो लखीमपुर जिले के यतीश चंद शुक्ला के नाम होने जा रहा है। इस रिकार्ड पर गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड की टीम लगातार नजर रखेगी।

आस्ट्रेलिया से आयेगी टीम

कृषक समाज इण्टर कालेज में 25 सितम्बर से 30 सितम्बर तक आयोजित होने वाले लांगेस्ट मैराथन रीडिंग अलाउड कार्यक्रम में विश्व रिकार्ड को परखने के लिए आस्ट्रेलिया की टीम आएगी।

ऐसे मिली थी प्रेरणा

यतीश चंद शुक्ला ने बताया कि 2018 में बोर्ड परीक्षा चल रही थी तो लगभग 4 लाख बच्चों ने परीक्षा छोड़ दी थी। मैंने सोचा कि क्यों न बच्चों को प्रेरित करने के लिए कुछ कार्य किया जाए। मैं लगातार 140 घंटे पढ़ाने जा रहा हूं। इससे उन्हें प्रेरणा मिलेगी कि जब मैं लगातार 140 घंटे पढ़ा रहा हूं और मुझे कुछ नहीं हो रहा है। अगर आप भी 4 घंटे रोज पढ़ लोगे तो आप अपनी परीक्षा में सफल हो जाओगे।

यह भी पढ़ें… अभाविप ने छात्र संघ चुनाव की तैयारियों को लेकर बनाई रणनीति


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *