पूर्व सीएम शंकर सिंह वाघेला अब इस पार्टी का देंगे साफ, भाजपा की बढ़ी मुश्किलें

पूर्व सीएम शंकर सिंह वाघेला अब इस पार्टी का देंगे साफ, भाजपा की बढ़ी मुश्किलें



New Delhi. आगामी लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को करारा झटका लग सकता है। दरअसल, जनसंघ और भाजपा के कद्दावर नेता और गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री ने पिछले विधानसभा चुनाव में राजनीति से अपने को दूर कर लिया था, लेकिन अब उन्होंने फिर से राजनीति में सक्रिय होने का इशारा किया है। राजनीति में उनके सक्रिय होने से भाजपा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला ने पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान खुद को कांग्रेस पार्टी से अलग कर लिया था। इसके बाद उन्होंने जन विकल्‍प मोर्चा का गठन किया था और विधानसभा चुनाव में 100 प्रत्याशियों को भी उतारा था। अब उन्होंने फिर से राजनीति में सक्रिय होने का इशारा किया है। दरअसल, शंकर सिंह वाघेला ने गांधीनगर स्थित अपने निवास वसंत वगडा पर एक पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने खुलासा किया।

यह भी पढ़ें ..अखिलेश यादव के करीबी नेता ने शिवपाल यादव पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान

उन्होंने इस दौरान केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने वादे नहीं पूरे किए हैं। उन्होंने कहा कि वह केन्द्र की मोदी सरकार के सामने खडे होंगे। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि वह किसी भी पार्टी मे जाने वाले नहीं हैं, लेकिन भाजपा के सामने जो पार्टी लड़ रही है उसकी मदद जरूर करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें सत्ता का कोई मोह नहीं है। भाजपा सरकार ने किसानों के साथ अन्याय किया है। अब ऐसे में यह भी अंदेशा लगाया जा रहा है कि वह कांग्रेस का सहयोग कर सकते हैं या किेसी अन्य छोटे दल का साथ दे सकते हैं।

बता दें कि शंकर सिंह वाघेला ने राजनीति की शुरुआत जनसंघ से की थी और भाजपा में भी कई सालों तक रहे। बीजेपी से बगावत कर गुजरात के मुख्‍यमंत्री बने। इसके बाद कांग्रेस में शामिल हो गए। कांग्रेस की सरकार के दौरान केंद्र में भी वह मंत्री भी रहे हैं, लेकिन गुजरात चुनाव से पहले उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी।

यह भी पढ़ें ..अवैध अतिक्रमण की जद में पूरा शहर, प्रशासन को दे रहा चुनौती


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *