अखिलेश यादव ने किया बड़ा ऐलान, बोले...रिवर फ्रंट पर बनाएंगे मंदिर

अखिलेश यादव ने किया बड़ा ऐलान, बोले…रिवर फ्रंट पर बनाएंगे मंदिर



Lucknow. आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सभी दलों ने अपनी-अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी को हराने को लेकर एकजुट होने की योजना पर काम कर रहे हैं। कांग्रेस, बसपा और सपा यूपी में गठबंधन करना चाहती है। इसे लेकर अखिलेश यादव भी कई बार इशारा कर चुके हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती भी कई बार कह चुकी हैं कि भाजपा को हराने के लिए हम गठबंधन को तैयार हैं, लेकिन सम्मानजनक सीटें नहीं मिलीं तो वह गठबंधन नहीं करेंगी। हालांकि कांग्रेस की ओर से अभी कोई बयान नहीं आया है। सबसे खास बात यह है कि अभी तक गठबंधन को लेकर कोई फैसला नहीं हो सका है। वहीं, सभी दल चुनावी तैयारियों में जुटे हुए हैं। इस बीच अखिलेश यादव ने एक नया दांव चल दिया, जिससे भारतीय जनता पार्टी में हड़कम्प मच गया है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा की ओर से आयोजित भगवान विश्वकर्मा की पूजा के बाद सम्बोधित कर रहे थे। अखिलेश ने कहा कि भगवान विश्वकर्मा ब्रह्मा के दूसरे रूप हैं। उन्होंने वास्तु के क्षेत्र में अनेक निर्माण किए। उन्होंने कहा कि भगवान विश्वकर्मा सृजन के प्रतीक है। भगवान विश्वकर्मा ने ही द्वारिका का निर्माण किया था।

यह भी पढ़ें… अब शिवपाल यादव ने भतीजे अखिलेश से की ये बड़ी मांग, बोले..मुझे भी शामिल करो

विश्वकर्मा समाज से हमारे नज़दीकी रिश्ते हैं। समाजवादी सरकार ने विश्वकर्मा जयंती पर अवकाश घोषित किया गया था। समाजवादी सरकार फिर से बनी तो विश्वकर्मा जी के नाम पर गोमती रिवरफ्रंट पर एक सुन्दर स्थल तथा मंदिर बनाया जाएगा।

यही नहीं, अखिलेश यादव ने भाजपा पर करारा हमला भी बोला। अखिलेश यादव ने कहा कि भारत दुनिया के स्तर पर बहुत पीछे चला गया है। बदलाव के साथ दुनिया का मुकाबला करने के लिए समाज को भी नई तकनीक से वास्ता रखना होगा। अखिलेश ने कहा कि भाजपा प्रयोग करती है कि लोगों को कैसे परेशान किया जाए।

नोटबंदी से न कालाधन कम हुआ न भ्रष्टाचार मिटा, जीएसटी से व्यापारी परेशान है। डीजल-पेट्रोल मंहगा है। उन्होंने कहा कि देश की जनता इंतजार कर रही है कि लोकसभा चुनाव 2019 में आए और वह बैलट पर अपना गुस्सा निकाले।

यह भी पढ़ें… शिवपाल यादव के मोर्चे के झंडे में इन नेताओं को मिली जगह, सपा की बढ़ी मुसीबत


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *