पीएचडी की छात्रा ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बड़ी बात, मचा हड़कम्प

पीएचडी की छात्रा ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बड़ी बात, मचा हड़कम्प



Lucknow. प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गोमतीनगर के विवेकखंड में किराए पर रहने वाली कानपुर की शिखा गुप्ता (32) ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है। बताया जा रहा है कि वह बुधवार दोपहर को इंटरव्यू देने गई थी, जिसमें असफल रहने पर उसने यह कदम उठाया। पुलिस को कमरे में दो लाइन का सुसाइड नोट मिला है।

प्रभारी निरीक्षक देवी प्रसाद तिवारी ने बताया कि कानपुर के गोविंदनगर निरंकारी चौराहा निवासी श्रीकृष्ण गुप्ता की बेटी शिखा लखनऊ में रहकर एनबीआरआई से केमिकल साइंस में पीएचडी कर रही थी। उसने अपना शोध पत्र अगस्त में जमा किया। 31 अगस्त को डिग्री भी मिल गई। पिता के मुताबिक, शिखा ने बुधवार दोपहर मां श्यामा से बातचीत की थी। रात को जब फोन मिलाया गया तो रिसीव नहीं हुआ। अनहोनी की आशंका से पिता बृहस्पतिवार सुबह लखनऊ पहुंचे। करीब 11 बजे उसके कमरे का दरवाजा खटखटाया, लेकिन जवाब नहीं मिला। इसके बाद उन्होंने खिड़की से झांका तो होश उड़ गए।

यह भी पढ़ें …  चुनाव से पहले कांग्रेस ने लिया बड़ा फैसला, इन नेताओं को सौंपी अहम जिम्मेदारी

शिखा का शव पंखे से दुपट्टे के सहारे लटक रहा था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव बाहर निकाला। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि शिखा के कमरे में दो लाइन का सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने अंग्रेजी में लिखा है कि नो वन इज रिस्पॉन्सिबल फॉर माई डेथ। नीचे शिखा ने दस्तखत किए है। उन्होंने बताया कि अब तक की पड़ताल में सामने आया कि वह दोपहर को फरीदीनगर स्थित सीमैप में इंटरव्यू देने गई थी। इसमें उसे असफलता हाथ लगी।

यह भी पढ़ें … लंदन से वायरल हुआ निरहुआ और आम्रपाली का यह वीडियो, बिना देखे नहीं रह पाएंगे आप


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *