अखिलेश ने मायावती को दी बड़ी जिम्मेदारी, भाजपा की बढ़ सकती है मुसीबत

अखिलेश ने मायावती को दी बड़ी जिम्मेदारी, भाजपा की बढ़ सकती है मुसीबत



Lucknow. आगामी लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर सभी राजनीतिक दल अपने संगठनों को मजबूत करने की कोशिश में लगे हुए हैं। इस बीच समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बहुजन समाज पार्टी, कांग्रेस और रालोद को बड़ी जिम्मेदारी दे दी है। यह जिम्मेदारी भारतीय जनता पार्टी पर भारी पड़ सकती है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बुधवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। बातचीत के दौरान जब पत्रकारों ने महंगाई को लेकर अखिलेश से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि अब तो पत्रकार लोग भी महंगाई से परेशान है। अखिलेश ने कहा कि जब हम सरकार में आएंगे तो महंगाई हो जाएगी। विपक्ष में रह कर हम कैसे महंगाई कम कर सकते हैं, हम तो सिर्फ आवाज उठा सकते हैं।

यह भी पढ़ें… बड़ी खबर : बसपा के इस बड़े नेता की गोली मारकर हत्या, मचा हड़कम्प

अखिलेश यादव ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इस सरकार में पेट्रोल की कीमतें आसमान छू रही हैं, लेकिन सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है। अखिलेश ने कानून व्यवस्था को लेकर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि आज लोगों का आत्म सम्मान नहीं बचा है। देश में जो घटनाएं हो रही हैं उन्हें पूरी दुनिया देख रही है।

बसपा की जिम्मेदारी है वो भाजपा को जीरो पर ले आए

इसके बाद पत्रकारों ने जब अखिलेश से सवाल किया चुनावी सर्वे में आपको सात प्रतिशत और मायावती को तीन प्रतिशत लोगों ने पसंद किया है तो इस पर अखिलेश ने मजाकिया अंदाज में जवाब दिया। उन्होंने कहा कि आप ही लोग पूछते जीरो कहा लगाना है। अखिलेश ने कहा कि हम समाजवादी लोग जीरो लगाना अच्छे से जानते हैं।

यह भी पढ़ें… इस चुनाव में बसपा ने किया चौंकाने वाला प्रदर्शन, इतनी सीटों पर दर्ज की जीत

उन्होंने कहा कि सात और तीन के आगे जीरो लगा कर जोड़ दें तो 100 प्रतिशत हो गया। ये तो और अच्छी बात है। अखिलेश ने कहा कि ये तो बहुजन समाज पार्टी की सरकार की जिम्मेदारी बनती है यूपी में भाजपा को जीरो पर ले आए। हमारी जिम्मेदारी है कि वो पांच पर ले आएं। कांग्रेस की जिम्मेदारी है दो पर ले आएं और रालोद की जिम्मेदारी है कि वो एक पर ले आए।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *