यूपी में 41हजार नवनियुक्त अध्यापकों के प्रमाण पत्रों का सत्यापन कराने के निर्देश

यूपी में 41हजार नवनियुक्त अध्यापकों के प्रमाण पत्रों का सत्यापन कराने के निर्देश



Lcuknow. उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव डॉ. अनूप चन्द्र पाण्डेय ने निर्देश दिये हैं कि प्रदेश में प्रचलित नियुक्ति प्रक्रिया से चयनित लगभग 41 हजार नवनियुक्त प्राथमिक अध्यापकों को आगामी 05 सितम्बर को नियुक्ति पत्र निर्गत कराये जाने के लिए प्रमाण पत्रों का सत्यापन एवं अन्य आवश्यक कार्यवाहियां प्राथमिकता से सुनिश्चित करायी जायें। उन्होंने आगामी शैक्षिक सत्र में समय से पाठ्य-पुस्तकों का वितरण सुनिश्चित कराने के लिए नियमानुसार कार्यवाहियां समय से पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित कराया जाये कि वर्तमान शैक्षिक सत्र के अध्ययनरत छात्रों को शत-प्रतिशत पाठ्य-पुस्तकों का वितरण करा दिया जाये। उन्होंने प्रत्येक विद्यालयों में छात्रों की संख्या कम से कम 05 प्रतिशत बढ़ाने के लिए विद्यालय न जाने वाले छात्रों का पंजीकरण कराकर ऐसे छात्रों को विद्यालय जाने के लिए प्रोत्साहित कराने का अभियान चलाने के निर्देश दिये।

मुख्य सचिव आज योजना भवन में वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से महत्वपूर्ण योजनाओं की समीक्षा कर मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के अन्तर्गत स्वच्छ सर्वेक्षण में जनता से फीडबैक लेकर प्रदेश को चौथे से प्रथम स्थान पर लाने हेतु स्वच्छ सर्वेक्षण कार्यों में और अधिक गति लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत लक्ष्य के सापेक्ष वर्तमान में चयनित लगभग 1 लाख 50 हजार लाभार्थियों के डीपीआर यथाशीघ्र बनवाकर राज्य स्तरीय समिति के अनुमोदन के बाद भारत सरकार को अनुमोदन के लिए सितम्बर में प्रस्तावित बैठक में अनुमोदन के लिए भेजा जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि प्रदेश के सभी नगरवासियों को पानी एवं सीवर कनेक्शन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए अभियान चलाकर आवश्यक कार्यवाहियां प्राथमिकता पर सुनिश्चित करायी जायें।

यह भी पढ़ें ..खुशखबरी: पूर्व सांसद ने अपने साथियों के साथ बसपा में की वापसी

डॉ0 अनूप चन्द्र पाण्डेय ने यह भी निर्देश दिये कि सौभाग्य योजनान्तर्गत प्रदेश के समस्त नागरिकों को बिजली कनेक्शन की सुविधा नियमानुसार उपलब्ध कराने के लिए अभियान चलाया जाये। उन्होंने कहा कि मजरों में बिजली उपभोक्ताओं को बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराने हेतु लक्ष्य का निर्धारण कर कार्यों की समीक्षा सुनिश्चित करायी जाये। उन्होंने उजाला योजनान्तर्गत विद्युत उपभोक्ताओं को निर्धारित न्यूनतम दर पर एलईडी लाइट/बल्ब उपलब्ध कराने की कार्यवाहियां प्राथमिकता पर सुनिश्चित करायी जायें।

वीडियो कान्फ्रेन्सिंग में कृषि उत्पादन आयुक्त/अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डॉ0प्रभात कुमार, अपर मुख्य सचिव नियोजन दीपक त्रिवेदी, मुख्य कार्यपालक अधिकारी यूपीडा अवनीश कुमार अवस्थी, प्रमुख सचिव ऊर्जा आलोक कुमार, प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास अनुराग श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें … चुनाव-2019: राहुल गांधी ने उठाया बड़ा कदम, राजनीतिक दलों में मच गया हड़कम्प


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *