अब नहीं हो सकेगी घटतौली, समिति ने लिया ये बड़ा फैसला

अब नहीं हो सकेगी घटतौली, समिति ने लिया ये बड़ा फैसला



गोला गोकर्णनाथ, खीरी। सहकारी गन्ना विकास समिति की वार्षिक सामान्य सभा सम्पन्न हो जाने के बाद अध्यक्ष सुरेश चंद्र वर्मा, प्रबंधक आशीष सिंह व सचिव नंदलाल ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता में कहा कि पहले चीनी मिले गन्ना क्रय करने के लिए मांग पत्र गन्ना समिति को भेजती थी। इधर गन्ने का उत्पादन बढ जाने के कारण चीनी मिलों ने मांग पत्र भेजना बंद कर दिया है। जिससे समिति पिछले वर्ष की भांति ही गन्ना पर्चिया जारी करेगी।

उन्होने कहा कि किसानों की गन्ना घटतौली को लेकर अक्सर चीनी मिलों से आये दिन झडप होती रही हैं। इसलिए सहकारी गन्ना समिति द्वारा मिल गेट के पास धर्मकांटे लगाये जायेगें। जबकि गोला में किसी धर्मकांटे से एग्रीमेंट किया जायेगा, जहां किसान अपने गन्ना का वजन 24 घंटे निःशुल्क कराकर चीनी मिल को गन्ना सप्लाई कर सकेंगे।

यह भी पढ़ें … मायावती और अखिलेश में गठबंधन की भूमिका तय, बस इसका है इंतजार

उन्होंने कहा कि इस बार पटिहन नया गन्ना क्रय केंद्र खोला जा रहा है जबकि धनसिंहपुर, मैलानी, निहालपुर, सिकन्द्राबाद को विभाजित कर मस्तराम बाबा, मैलानी बी, मथुरापुर व घुंसी नया क्रय केंद्र बनाया गया। इसके लिए समिति के लाभांश से गन्ना छिलाई मशीन खरीदने के लिए प्रस्ताव भेजा जायेगा और भविष्य में इसकी स्वीकृत मिलती है तो किसानों की लिए उपलब्ध हो सकेगी।

17 फरवरी तक हुआ गन्ना भुगतान

सचिव नंदलाल ने बताया कि बजाज चीनी मिल ने किसानों का बकाया गन्ना मूल्य भुगतान 17 फरवरी तक का समस्त किसानों का कर दिया है। जबकि 18 फरवरी का भुगतान आंशिक किया गया। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन की रिपोर्ट उनके द्वारा शासन प्रशासन को भेजी जा रही है।

यह भी पढ़ें … गन्ना विकास समि​ति की बैठक में इस मुद्दे को एजेंडे से किया बाहर, किसानों में हड़कम्प


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *