गन्ना विकास समि​ति की बैठक में इस मुद्दे को एजेंडे से किया बाहर, किसानों में हड़कम्प

गन्ना विकास समि​ति की बैठक में इस मुद्दे को एजेंडे से किया बाहर, किसानों में हड़कम्प



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। सहकारी गन्ना विकास समिति लिमिटेड की वार्षिक साधारण सभा जोरदार हंगामे में सिमट कर रह गई। जिसमें किसान प्रतिनिधियों ने बकाया गन्ना भुगतान की मांग को लेकर जमकर हंगामा काटते हुए विरोध प्रदर्शन व काले झंडे लहराए। अफरा तफरी के बीच सचिव ने किसी तरह से प्रस्ताव पढकर गत बैठक की कार्रवाई की पुष्टि करते हुए आयोजित बैठक के एजेंडे के बिदुओं पर चर्चा की।

लखीमपुर रोड स्थित सीजीएनपीजी कॉलेज में सहकारी गन्ना विकास समिति की वार्षिक साधारण सभा का आयोजन किया गया था। वार्षिक बैठक सामान्य सभा की कार्रवाई के अनुमोदन पर विचार के साथ चालू पेराई सत्र के लिए चीनी मिलों के गन्ना संरक्षण पर विचार, अवसानित कीटनाशक 2-4डी को राईट आफ करने, गत वर्ष के संतुलन पत्र क अवलोकन व अनुमोदन, ऋण माफी के पश्चात ब्याज, अवशेष राशि के राईट आफ करने, पर्ची विवरण कार्य हेतु मानदेय निर्धारित करने, खाद गोदामों की मरम्मत कर्मचारियों की तैनाती पर विचार के विषयों पर चर्चा के साथ ही विभिन्न किसान संगठनों राष्ट्रीय किसान मजदूर पार्टी, भारतीय किसान यूनियन, लोक जनसंघर्ष पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने किसानों के बकाया गन्ना भुगतान की मांग को लेकर हंगामा करना शुरु करने के साथ सभागार में काले झंडे लहराते हुए विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिया।

यह भी पढ़ें … राहुल गांधी ने इन आठ नेताओं को सौंपी बड़ी कमान, भाजपा में मचा हड़कम्प

किसानों का कहना था कि बैठक के एजेंडे में किसानों के बकाया गन्ना भुगतान के विषय को शामिल नहीं किया गया। किसानों के गत बैठक का हवाला देते हुए कहा कि गत बैठक में खाद गोदामों के लिए बजट का प्रस्ताव पास किया गया। लेकिन अभी तक खाद गोदाम जर्जर हालत में है। जिस कारण किसानों को खाद लेने के लिए गोला जाना पडता है। जिससे किसानों का समय व पैसे का अपव्यय होता है। इन्ही प्रमुख मांगों को लेकर किसान संगठन बेकाबू हो गए। जमकर हंगामे व विरोध प्रदर्शन के साथ बैठक का समापन किया गया।

इधर गन्ना सचिव नंदलाल, अध्यक्ष सुरेश चंद्र वर्मा, प्रबंधक आशीष सिंह, अवधेश कुमार मिश्रा, रामू अवस्थी ने बताया कि बैठक की कार्रवाई पूरी की गई है। समिति सचिव नंदलाल, अध्यक्ष सुरेश चंद्र वर्मा, प्रबंधक आशीष सिंह, संचालक रामू अवस्थी, कन्हैयालाल बाजपेई, राजीव शुक्ला, महेन्द्र प्रताप यादव, बादाम सिंह, सुरेश पाल यादव, डेलीगेट अवधेश कुमार मिश्रा, मंदीप वर्मा, सहित रामपाल भदौरिया, रामराखनलाल बाजपेई, विजय बाजपेई, इस मौके पर किसान नेता रामसिंह वर्मा, कृष्ण कुमार यादव, अंजनी दीक्षित, भूपराम वर्मा सहित सैकडों किसानों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें … मायावती और अखिलेश में गठबंधन की भूमिका तय, बस इसका है इंतजार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *