मायावती ने बनाया नया प्लान, भाजपा में मच गई खलबली

मायावती ने बनाया नया प्लान, भाजपा में मच गई खलबली



Lucknow. आगामी लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मिशन पूरी तरह से चुनावी मोड में आ गए हैं। वहीं, बसपा सुप्रीमो मायावती भी अपनी चुनावी तैयारियों को धार देने में जुट गई हैं। मायावती ने सोमवार को पार्टी पदाधिकारियों की बैठक बुलाई। बैठक में सिर्फ कानपुर जोन के बड़े नेताओं को बुलाया गया था। बैठक में मयावती ने जिलेवार अध्यक्षों और कोआर्डिनेटरों से जमीनी हकीकत जानी और हर बूथ कमेटी बनाए जाने का आदेश दिया। साथ ही निष्क्रिय कार्यकर्ताओं के अलावा भीतरघात कराने वालों को चिन्हित कर लिस्ट प्रदेश कार्यलय भिजवाए जाने को कहा है। बैठक के बाद कानपुर कोआर्डिनेटर नौशाद ने कहा कि 2019 में हाथी कानपुर और बुंदेलखंड की सभी 10 में से 10 सीटों पर दौड़ेगा।

​पिछले दिनों यूपी दौरे पर आए अमित शाह ने गठबंधन की काट का मंत्र देते हुए कार्यकर्ताओं को प्रत्येक बूथ से 51 फीसदी वोट हासिल करने की अपील की। इसके बाद मायावती ने भी बूथ स्तरीय कमेटी को मजबूत करने का निर्देश दिया है। मायावती ने कानपुर-बुंदेलखंड के 17 जिलों की 52 विधानसभा और 10 लोकसभा क्षेत्रों के बूथों पर कमेटी गठन के आदेश दिए हैं। मायावती ने विधानसभा वार बूथों को सेक्टर में बांटने के आदेश दिए हैं। इसके लिए प्रत्येक सेक्टर में दस बूथ स्तरीय कमेटी बनेगी। इनमें 23-23 सदस्य होंगे। इन सभी कमेटियों की जिम्मेदारी जोन इंचार्ज के पास होगी, जो हर दिन की रिपोर्ट सीधे प्रदेश कार्यालय भेजेंगे।

यह भी पढ़ें … मायावती ने चला बड़ा दांव, कांग्रेस के आगे रख दी ये बड़ी शर्त

बसपा के पूर्व विधायक ने आदित्य पांडेय ने बताया कि पार्टी प्रमुख मायावती लगातार 18 से 20 घंटे काम कर रही हैं। उनकी लगातार राज्यवार पार्टी नेताओं से मुलाकात हो रही है। उन्होंने कहा कि संगठन की बात करें तो हम पूरी तरह से चुनाव के लिए तैयार हैं। हम लगातार बूथ स्तर से लेकर स्थानीय कमेटियों पर कार्य कर रहे हैं। 2019 में देश की प्रधानमंत्री मायावती बन कर रहेंगी। क्योंकि चार साल के पीएम मोदी व सीएम योगी के कार्यकाल को जनता ने देख लिया है और झूठ की पोल खुल चुकी है। यूपी के अलावा देश के मतदाता अब बहन मयावती को दिल्ली की कुर्सी पर बैठाना चाहते हैं और अगले लोकसभा चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा।

बसपा ने भी भाजपा की तरह आईटी सेल की नींव रख दी है। इसका मुख्यालय आगरा में बनाया गया है। जहां से पूरे प्रदेश की मॉनीटरिंग की जाएगी। इस सेल की कमान कद्दावार नेता सतीश मिश्रा के दामाद परेश मिश्रा को दी गई है। परेश लखनऊ के रहने वाले हैं। उनके पिता एक जाने-माने वकील हैं, जबकि परेश खुद भी एक वकील हैं।

यह भी पढ़ें …  मायावती का बड़ा एक्शन, इस बड़े नेता को पार्टी से किया बाहर


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *