सावधान! पांच हजार रुपए से ज्यादा है बिजली बिल बकाया तो...

सावधान! पांच हजार रुपए से ज्यादा है बिजली बिल बकाया तो…

बिजली चोरी रोकने के लिए चलेगा विशेष अभियान, ग्रामीण क्षेत्र में पांच हजार, शहरी क्षेत्र में दस हजार बकाए पर कटेगा कनेक्शन


बिजली चोरी रोकने के लिए चलेगा विशेष अभियान, ग्रामीण क्षेत्र में पांच हजार, शहरी क्षेत्र में दस हजार बकाए पर कटेगा कनेक्शन

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। शहर सहित बिजली वितरण खंड क्षेत्र में बेहतर बिजली आपूर्ति व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ बिजली बिल बकाया वसूली व बिजली चोरी रोकने के लिए शासन सहित विभागीय उच्चाधिकारियों के निर्देश पर विभाग द्वारा मार्स काम्बिंग अभियान चलाया जा रहा है, जिसके तहत शत प्रतिशत वसूली के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में 5 हजार रुपए के बकाएदार उपभोक्ताओं को आरसी भेजकर वसूली की जाएगी। जिसमें दस प्रतिशत सरचार्ज भी वसूला जाएगा।

वहीं, टाउन क्षेत्र में 10 हजार रुपए से ऊपर के बकाएदारों के कनेक्शन काटकर आरसी जारी कर बकाया वसूली अभियान चलाया जा रहा है। इसी कडी में अभियान के तहत ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में विभाग के कई सचल दस्ते चेकिंग अभियान के दौरान बिजली चोरों के विरुद्व एफआईआर दर्ज कराई जा रही है।

यह भी पढ़ें …  इस टीवी एक्ट्रेस ने पोस्ट किए पोर्न विडियो के स्क्रीनशॉट्स, जताई यह इच्छा

अधिशाषी अभियंता ई0 रवीन्द्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि विभाग द्वारा विधिवत मानीटरिंग कराई जा रही है। जिसमें अभियान के तहत बरेली व सीतापुर की विजिलेंस टीम सहित लखनऊ लखीमपुर की टीमें भी शामिल है। निरीक्षण में स्वीकृत भार के अधिक उपयोग किए जाने पर संबंधित के विरुद्व बिजली चोरी के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

सरकारी व अर्धसरकारी संस्थानों के बकाया 13 करोड

अधिशाषी अभियंता इं रवीन्द्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि बिजली वितरण खंड द्वितीय क्षेत्र के अंर्तगत पलिया, मोहम्मदी, मैगलगंज, संपूर्णानगर क्षेत्र के सरकारी व अर्धसरकारी संस्थानों के बकाए के मामले में भी विभाग अगले चरण में सख्त कार्रवाई करने की रणनीति तय कर चुका है, जिसके तहत उक्त क्षेत्रों के ग्रामीण व शहरी इलाको में बकाया लगभग 13 करोड़ चिन्हित किया गया है, जिसके लिए कार्रवाई कर कनेक्शन काटने व बकाया वसूली की कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें … बिजली न मिलने से चौपट हो रही फसलों को लेकर भड़के किसान


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *