लोकसभा चुनाव-2019: कांग्रेस ने बनाई ऐसी रणनीति कि भाजपा में मच गया हड़कम्प

लोकसभा चुनाव-2019: कांग्रेस ने बनाई ऐसी रणनीति कि भाजपा में मच गया हड़कम्प



Lucknow. आगामी लोकसभा चुनाव—2019 को लेकर सभी राजनीतिक दल सक्रिय हो गए हैं। इसके लिए कांग्रेस ने भी कमर कस ली है। कांग्रेस किसी भी हालत में भाजपा को रोकने के लिए अपनी रणनीतियां बनाने लगी है। कांग्रेस ने ऐसी रणनीति तैयार की है, जिससे भाजपा में हड़कम्प मच गया है। दरअसल, कांग्रेस ने केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार की विफलताओं को उजागर करने के लिए जिला, ब्लॉक, शहर एवं बूथ स्तर पर कमेटियों का गठन कर ब्लाक स्तरीय सम्मेलनों का आयोजन करने जा रही है। बताया जा रहा है कि यह ब्लॉक सम्मेलन पांच जून से 25 जून तक चलेगा।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता कृष्णकान्त पाण्डेय ने बताया कि इन ब्लॉक सम्मेलनों के माध्यम से जनता को केन्द्र सरकार की विफलताओं और जनता से वादाखिलाफी से रूबरू कराएगी। कांग्रेस निम्न मुद्दों पर मोदी और योगी सरकार को घेरेगी।

इन बिन्दुओं पर मोदी सरकार को घेरेगी कांग्रेस

– 15 लाख खाते में नहीं आये, जुमला साबित हुआ।

– बेरोजगारों को रोजगार दिये जाने के नाम पर केवल कोरा आश्वासन दिया गया।

– 2 करोड़ नौकरियों का अवसर पान व पकौड़ा पर समाप्त, बेरोजगारों के साथ मजाक।

यह भी पढ़ें .. अब एक मंच पर होंगे आरबीआई पूर्व गवर्नर रघुराम राजन, सीएम योगी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत!

– किसान विरोधी नीतियां-समर्थन मूल्य न दिया जाना, किसानों को उनकी फसल का मुआवजा न दिया जाना, किसानों की कर्जमाफी पर धोखा, गन्ना किसान खस्ताहाल, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना किसानों के साथ धोखा।

– आजादी के बाद पहली बार भाजपा सरकार द्वारा खेती-बाड़ी पर टैक्स, कृषि निर्यात गिरा-आयात बढ़ा।

– शिक्षा बदहाल, युवाओं पर संकट, शिक्षा बजट में कटौती।

– आई.टी. सेक्टर में लाखों लोगों की छंटनी, सरकारी नौकरियों के पेपर लीक।

– बैंक घोटालों की बाढ़।

– लड़ाकू विमानों(राफेल) एवं रक्षा सौदों पर घोटाला, राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में, डोकलाम में चीन कर रहा है घुसपैठ, मोदी सरकार बेखबर। हमारे सशस्त्र बलों की अनदेखी और उनके साथ विश्वासघात। सेना के साथ सरकार के ढुलमुल रवैये के चलते सीमा पर शहीद होने वाले सैनिकों की तादात लगातार बढ़ रही है।

– भाजपा सरकार नक्सी हमले रोकने में नाकाम।

यह भी पढ़ें … इस आप नेता ने मुख्यमंत्री केजरीवाल को बताया धोखबाज, सुनाई खरी-खोंटी

– डीजल/पेट्रोल में निरन्तर मूल्य वृद्धि जारी, कमी के नाम पर 1, 5 और 7 पैस कम करके जनता का उपहास उड़ाया जा रहा है।

– मंहगाई चरम सीमा पर, आम जनता बेहाल

– ब्याज दरें कम, बचत का बंटाधार।

– मेक इन इण्डिया नारा हुआ फ्लाप।

– पिछले 4 सालों में कुछ उद्योगपतियों की सम्पत्ति 4 गुना बढ़ी, आम जनता की आमदनी घटी। केन्द्र सरकार ने बड़े उद्योगपतियों का 2.5 लाख करोड़ का ऋण माफ किया लेकिन किसानों की कर्जमाफी के लिए पैसा न होने का रोना रो रही है।

– जनता बिजली की कटौती एवं पानी की कमी से त्रस्त।

– निर्यात में गिरावट, व्यापार घाटा बढ़ा।

– भाजपा ने चोरी-छिपे एस0सी0/एस0टी0 एक्ट कानून को कमजोर किया।

– प्रदेश की ध्वस्त कानून व्यवस्था।

– प्रदेश में बलात्कार की घटनाओं में बेइन्तिहा वृद्धिं

– रेलवे सुरक्षा एवं संचालन का बुरा हाल।

-नमामि गंगे योजना के अन्तर्गत अरबों का घोटाला, गंगा मां के साथ विश्वासघात।

यह भी पढ़ें … एक और किसान पर बाघ ने किया हमला, गम्भीर रूप से घायल


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *