निरंकारी मिशन पढ़ाता है एकता का पाठ : गुरुदीप सिंह 

निरंकारी मिशन पढ़ाता है एकता का पाठ : गुरुदीप सिंह 



गोला गोकर्णनाथ, खीरी। स्थानीय निरंकारी सत्संग भवन में 24 अप्रैल मानव एकता दिवस के रुप में धूमधाम से मनाया गया। जिसकी अध्यक्षता कम्पनी फार्म से आए निरंकारी संत गुरुदीप सिंह ने की। संचालन क्षेत्रीय संचालक रंजीत सिंह ने किया।

सत्संग को सम्बोधित करते हुए महात्मा गुरुदीप सिंह ने कहा कि 24 अप्रैल 1980 में बाबा गुरुवचन सिंह जी महाराज को गोली मारी गई थी पूरा मिशन खून खराबे पर उतर आया था मगर निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज ने कहा आपका तो एक ही रिश्ता था मेरे दो रिश्ते थे। एक तो मेरा गुरु, दूसरे मेरे पिता भी थे मैं चाहता हूं कि सोंच उनकी थी कि मानव का रक्त नालियों में नही नाडिय़ों में बहे, मानव-मानव से प्यार करे इस सोंच को आगे बढ़ाने के लिए हम सब खून खराबा नही करेगें और प्रेम से लोगों के दिलों को जीतने का प्रयास करेगें। आगे आपने कहा उस समय निरंकारी कहलाने से लोग डरते थे। फिर भी बहुत से ऐसे निडर लोगों ने आगे बढक़र इस मिशन की बागडोर को बढ़ाते गए और निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज ने इसे बहुत आगे बढ़ाया।

यह भी पढ़ें … नाबालिग से दुष्कर्म मामले में आसाराम को उम्रकैद

उन्होंने कहा कि आज हम बहुत ही फक्र के साथ कहते हैं कि हम निरंकारी हैं। यह दिन 24 अप्रैल हमेशा याद किया जाएगा। इस दिन निरंकारी मिशन एकता का पाठ पढ़ाता है।  इस एकता की ज्योति को बढ़ाते हुए निरंकारी मिशन का नाम रोशन होगा। सत्संग में डॉ. देवदत्त, पिंकी राठी, बेचेलाल, प्रेम रस्तोगी, अनिल गुप्ता, जगदीश वर्मा, उमाशंकर सोनी, अवधेश पाण्डेय, अशोक कुमार, उर्मिला खुराना, परमिला खुराना, तेजराम वर्मा आदि तमाम महात्माओं ने अपनी भावनाएं व्यक्त की। सबने एक ही बात बताई जब तक मानव-मानव से प्रेम नही करेगा मानव एकता स्थापित नही हो सकती।

यह भी पढ़ें … सपा के इस बड़े नेता समेत चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज

निरंकारी मिशन मानव से मानव को जोडने का प्रयास गुरु ज्ञान के द्वारा कर रहा है।इस मौके पर आशीष वर्मा, हरमिन्दर सोनी, प्रदीप सोनी, कुसुम वर्मा, रामनरेश सोनी, लालजी प्रसाद, पवन गुप्ता, आशुतोष गुप्ता, शिवम गुप्ता, राजकुमारी गुप्ता, सचिन गुप्ता, रामचन्द्र मौर्या, मुन्नी देवी, सरिता गुप्ता, रवि सिंह सहित तमाम निरंकारी महात्मा मौजूद रहे। तत्पश्चात विशाल लंगर का आयोजन किया गया।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *