आईपीएल-11 : दिल्ली को अपने घर में ’गंभीर’ जीत की दरकार

आईपीएल-11 : दिल्ली को अपने घर में ’गंभीर’ जीत की दरकार



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में पांच मैच में से चार को हार चुकी दिल्ली डेयरडेविल्स को यहां फिरोजशाह कोटला मैदान में सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ होने वाले मैच में एक बड़ी जीत की दरकार होगी। दिल्ली के अब तक पांच मैचों में दो ही अंक हैं और वह तालिका में सबसे नीचे हैं। उसे पिछले दो मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है। शनिवार को उसे रायल चैलेंजर्स बेंगलोर के हाथों छह विकेट से मात खानी पड़ी थी।

दिल्ली के लिए ऋषभ पंत फार्म में चल रहे हैं जबकि एक मैच में शानदार पारी खेलने के बाद जैसन रॉय अपने लय को कायम रखने में विफल रहे हैं। इसके अलावा कप्तान गौतम गंभीर सहित अन्य बल्लेबाज भी संघर्ष करते नजर आ रहे हैं। गेंदबाजी में राहुल तेवतिया और ट्रेंट बोल्ट अब तक सात-सात विकेट ले चुके हैं जबकि अन्य गेंदबाज उनका साथ नहीं दे पा रहे हैं। दूसरी तरफ पंजाब पांच मैच में से चार मैच जीतकर तालिका में शीर्ष पर है। इस लीग में पंजाब ने पहले मैच में दिल्ली को छह विकेट से हराया था और वह एक बार फिर उसी प्रदर्शन को यहां भी बरकरार रखना चाहेगा।

यह भी पढ़ें … सरकार का जोर शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य सुविधाओं पर : मोदी

दिल्ली के लिए सबसे बड़ी चिंता क्रिस गेल के बल्ले को खामोश रखने की है। गेल का बल्ला इस समय जमकर रन उगल रहा है। गेल ने पिछले तीन मैचों में 63, नाबाद 104 और नाबाद 90 रन बनाए हैं।  गेल के इस विस्फोटक प्रदर्शन की बदौलत पंजाब लगातार पिछले तीन मैचों में जीत दर्ज करने में सफल रहा है। गेल तीन मैचों में 229 और लोकेश राहुल पांच मैचों में 213 रन बना चुके हैं। गेदबाजी में कप्तान रविचंद्रन अश्विन पांच और एंड्रयू टाई अब तक सात विकेट ले चुके हैं।  दिल्ली को बेशक घरेलू दर्शकों का समर्थन मिले लेकिन पंजाब की टीम जिस तरह शानदार फार्म में चल रही है, उसे देखते हुए पंजाब को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें … ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का नारा ‘बेटी बचाओ, बेटी छिपाओ’ में तब्दील: नकवी


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *