युवक और युवती ‘प्यार’ में मरने चले थे और पहुंच गई पुलिस...

युवक और युवती ‘प्यार’ में मरने चले थे और पहुंच गई पुलिस…



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। ‘प्यार अंधा होता है’ यह कहावत आज की युवा पीढ़ी पर कुछ हद तक सच साबित हो रही है। अगर देखा जाए तो युवक और युवतियां प्यार में जिंदगी तक गंवा देते हैं। अब आप ही बताए कि जिंदगी गंवा देना, ये प्यार की परिभाषा कब से हो गई है। युवाओं को जागरूक होना होगा, सोचना होगा कि जिंदगी गंवा देने को प्यार नहीं कहा जा सकता है। प्यार दो आत्माओं का मिलन होता है। धिक्कार है ऐसे युवाओं पर जो इस तरह का कदम उठाते हैं। इतनी ही मोहब्बत करते हो तो अपने मां-बाप को वो कर दिखाओ, जिससे वो भी खुश हो जाएं और आपका प्यार भी।

सांकेतिक फोटो

दोस्तों उक्त बातें लिखने का मतलब यह नहीं है कि मैं आपको भाषण दे रहा हूं। दरसअल कुछ घटनाएं ऐसी होती हैं, जो सोचने पर मजबूर कर देती हैं। ताजा मामला लखीमपुर खीरी में देखने को मिला। दरअसल, एक युवक और युवती प्यार में अपने परिवार से ही झगड़ा कर फरार हो गए और जहर खाकर आत्महत्या करने का करने का प्रयास किया।

यह भी पढ़ें … पिता की हैवानियत से तंग तीन सगी बहनें ट्रेन के आगे कूदी

अच्छा हुआ जो मौके पर पुलिस पहुंच गई और उन्हें बचा लिया। पुलिस ने तत्काल उन्हें सीएचसी में भर्ती कराया, जहां हालत गम्भीर देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो

पुलिस ने दिखाई सक्रियता

लखीमपुर खीरी के मोहल्ला गुटेयाबाग निवासी युवती (19) मोहल्ला हाथीपुर का निवासी युवक (22) एक दवा कम्पनी में काम करते हैं। बताया जा रहा है कि युवती के पिता एक कोयला फैक्ट्री में काम करते हैं। दवा कम्पनी में काम करते-करते युवक और युवती में नजदीकियां बढ गई। बताया जा रहा है कि नजदीकियां बढ़ते ही परिजनों को इसकी जानकारी हो गई। परिजनों ने काफी समझाया, लेकिन प्यार में डूबे युवक और युवती इसका असर नहीं पड़ा। इसके बाद परिजनों ने डांट लगाई, तो दोनों ने जान देने का फैसला कर घर से फरार हो गए।

यह भी पढ़ें … जानिए कौन है ‘चाणक्य’ और ‘विश्वकर्मा’, केशव मौर्य के काम पर रखेंगे नजर

बताया जा रहा है कि दोनों ने जहर खा लिया था, लेकिन इस बीच पुलिस को भनक लग गई। पुलिस सक्रियता दिखाते हुए तत्काल मौके पर पहुंची। यूपी 100 पुलिस टीम के हेड कॉन्स्टेबल रविन्द्र सिंह, आरक्षी शशि कपूर, सुनील कुमार ने जब दोनों से पूछताछ की तो मामला संदिग्ध प्रतीत हुआ। पुलिस ने उनकी हालत गम्भीर देख तत्काल सीएचसी में भर्ती कराया और उनके परिजनों को इसकी जानकारी दी। वहीं, चिकित्सकों ने दोनों की हालत गम्भीर देख जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

पुलिस ने अस्पताल में कराया भर्ती

प्रभारी निरीक्षक संजय त्यागी ने बताया कि क्षेत्र में सघन पुलिस गश्त व्यवस्था के चलते खुटार रोड पर एक युवक व युवती संदिग्ध अवस्था में मिले। पूछताछ के दौरान मामला संदिग्ध लगने पर यूपी-100 पुलिस टीम ने तत्काल दोनों को प्राथमिक उपचार के लिए सीएचसी भर्ती कराया गया। जहां युवक के बहनोई व युवती की मां को सूचना देकर मौके पर बुला लिया गया। दोनों के मध्य प्रेम-प्रसंग का मामला प्रकाश में आया है।

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो

युगभारत डॉट कॉम की अपील

उत्तर प्रदेश पुलिस ने जितनी सक्रियता दिखाई, वो बहुत ही प्रशंसनीय है। खैर, जो भी लेकिन पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए दो लोगों को मौत के काल से बचा लिया। अगर पुलिस मौके पर न पहुंचती तो शायद आज दोनों की मौत हो चुकी होती और ‘प्यार’ भी मर चुका होता। तो दोस्तों आप सभी लोगों से युगभारत डॉट कॉम की अपील है कि इस तरह का कदम उठाने से पहले दस बार सोचे…. मनन और चिंतन करें… शायद इसका उत्तर आपको मिल जाएगा।   दोस्तों कैसी भी परिस्थितियां हो उनका मुकाबला करें, उससे भागे नहीं।

यह भी पढ़ें … खीरी: पत्नी ने ससुराल जाने से मना किया तो पति ने लगाई फांसी


दोस्‍तों कमेंट बॉक्‍स में जाकर कमेंट जरूर करें, अगर अच्‍छा लिखा है तो और अच्‍छा लिख सकूं. अगर कोई कमी है तब भी बताएं.

दोस्‍तों अगर आप लोग भी समाज के लिए सकारात्‍मक लेख लिखना चाह रहे हैं या लिखते हैं तो इस ईमेल yugbharatnews@gmail.com पर आप भेज सकते हैं.


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *