चैती मेला: सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम

चैती मेला: सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम

श्रीकृष्ण मनोहारी कला केंद्र की प्रस्तुति पर भावविभोर हुए दर्शक


Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

श्रीकृष्ण मनोहारी कला केंद्र की प्रस्तुति पर भावविभोर हुए दर्शक

चैती मेला: सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम
चैती मेला: सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम

गोला गोकर्णनाथ,खीरी। ऐतिहासिक चैती मेले में सोमवार की देर शाम सांस्कृतिक मंच पर श्रीकृष्ण मनोहारी कला केंद्र द्वारा आकर्षक झांकियों के साथ धार्मिक भजनों की रसधार वही। जिसका आनंद उठाने के लिए दर्शक देर रात तक डटे रहे।

कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि प्रोफेसर रामऔतार विश्वकर्मा, पालिकाध्यक्ष मीनाक्षी अग्रवाल, विशिष्ट अतिथि सुरेश कुमार व कार्यक्रम अध्यक्ष पारस प्रसाद मिश्र ने दीप जलाकर शुभारम्भ किया। इसके उपरांत केंद्र के अखिलेश बाजपेयी, श्रीराम शाह, सूरज शर्मा के संयोजन में कलाकारों राहुल, दुर्गा, आशीष, राकेश, अमन’,जय दुर्गा म्यूजिकल गु्रप ने कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वन्दना- देवा श्री गणेश देवा से की। इस श्रंखला में राधा बनी श्रुति बाजपेयी, कृष्ण स्वरूप में शिवानी ने लचकत जाय कमरिया तेरी राधा रिकार्डिंग धुन पर नृत्य कर मन मोह लिया।

यह भी पढ़ें :– मेले में खाद्य पदार्थों में शुद्धता बनाए रखने पर दिया जोर

भगवान शिव केे रूप में शानू शर्मा ने जीवित सर्पों की माला गले में लटकाकर गौरा जी(शिवानी) ने जब भंग मैने भी पी ली पर नृत्य किया तो छोटे कश्यप ने शिव तांडव व शिव ही शक्ति है पर अभिनय किया। इनके अलावा श्रुति बाजपेयी व सूरज शर्मा ने कृष्ण सुदामा रूप में छुपा कहां, आजा रसिया, मुरली वाले तेरी याद सताए की प्रस्तुति देकर मित्रता की औलोकिक झलक  दिखाकर लोगों को भाव विभोर कर दिया। भगवान शिव(राहुल), काली(शानू शर्मा) अखाड़ा -जय हो-2, तेरी महा काली, होली खेले मचााने में प्रस्तुत किया। पागल बाबा रसिया(धर्मचंद शाह) ने मेरा दिल तुझपे कुरवान मुरलिया वाले रे। अखिलेश बाजपेयी, वीर शर्मा, यशवंत शर्मा ने- गरीबो की सुनों वह तुम्हारी सुनेगा रिकार्डिंग धुनों पर नृत्य कर शमां बांध दी। इसके साथ ही बाल कलाकार शिवानी, सीबू, रजनी, सौम्या, राजवीर, वीर, यशवन्त, आकाश ने विभिन्न झांकियां, नृत्य की प्रस्तुति देकर दर्शकों को देर रात तक रोके रखा। संचालन गुरु सुरेश ठाकुर ने किया।

यह भी पढ़ें :- बाल रोग विशेषज्ञ डा. वी कुमार वर्मा का निधन, शोक की लहर

इस मौके पर अधिशाषी अधिकारी आर.आर. अम्बेश, पियूष कुमार मिश्र, काशी विश्वनाथ तिवारी, जमाल अहमद राईन, कफील, कृष्ण कुमार उर्फ हरिओम वर्मा, नानकचंद वर्मा, अय्यूब खां, अनीस अहमद, रामकृष्ण शुक्ल, संजय वर्मा, आदि सदस्यगण, डॉ वेदप्रकाश अग्निहोत्री, राजेश बाजपेयी, निरेंद्र कुमार धाकड़े, बलराम पाण्डेय, श्रीशचंद्र त्रिपाठी, अमित श्रीवास्तव, अजय कुमार वर्मा, मोहित गिरि, पंकज कुमार, अशोक कुमार, विशाल शुक्ला, संत कुमार बाजपेयी, संजीव गुप्ता, विमलेश मिश्र, अरविंद पांडे, विवेक पाण्डेय, अनिल गुप्ता, वीरेंन्द्र सिंह, पीयूष वर्मा, विपिन तिवारी रामकुमार वर्मा, सतीश वर्मा, मनोज राठौर, विशाल शुक्ला, रितेश कुमार, प्रेमप्रकाश पाठक, अतुल त्रिवेदी सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें :- लविवि में दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *